आस्था प्राण बजाना फ्री क्लीनिक बिहार  में शुरू

बजाना के सौजन्य से राजा बाजार,पटना में एक स्वास्थ्य केंद्र की शुरुआत की गई है जिसमे जांच,एक्स रे दवाई मुफ्त दी जाती है। जो गरीब लोगो के लिए किसी वरदान से कम नही है यहाँ जरूरतमंदों को तमात खून जांच,एक्स रे,तमाम पैथलॉजी जांच, दवाई सहित सारी सुविधाएं मुफ्त में दी जाती है। आस्था चैरिटेबल वेलफेयर सोसायटी के संचालक उमा शंकर के अगुवाइ में प्रवासी अलुमुनाई निशुल्क क्लिनिक  और बजाना (बिहार झारखंड एशोसिएशन ऑफ नार्थ अमेरिका) के संयुक्त तत्वावधान में एक फ्री चिकित्सा केंद्र की शुरुआत की गई है जहां जरूरत मंदो को तमाम सुविधाए मुफ्त में मिल रही है ।
मुफ्त क्लिनिक के बिहार इकाई के मुखिया डॉ उमा शंकर सिन्हा के अनुसार यहाँ आने वाले तमाम जरूरतमंदों को एक्स रे,तमाम ब्लड जांच, लिवर की जांच, हार्ट की जांच,किडनी की जांच और जितने भी तरह के जांच हैं ,सीबीसी, ए सी जी मुफ्त कि जाती  है। बीमारी पहचान में बाद दबाई भी मुफ्त दी जाएगी। जो व्यक्ति इस क्लिनिक पर नही पहुच पाएंगे उनके लिए रूटिंबद्ध एक गाड़ी तैयार की गई है जो जगह जगह पर शिविर लगाएगी और जरूरत मंदो को सेवा प्रदान करेगी। इसकी शुरुआत भी हो चुकी है पिछले दिनों बिहार में कई जगहों पर शिविर का आयोजन किया  गया था जिसमे कई लोग लाभान्वित हुए । इस शिविर और क्लीनिक माध्यम से लोगो मे स्वास्थ के प्रति  अवेयरनेस की कमी को दूर कर लोगों में जागरूकता फैलाना है क्योकि सूबे में सरकार की ओर से सारी सुविधाएं  होने के बावजूद भी लोग तत्परता से स्वास्थ्य का ध्यान नहीं रख पाते हैं और लापरवाही बरतते हैं।
कई जगहों पर मूविंग वेहिकल के माध्यम से हेल्थ शिविर का आयोजन किया गया था जहाँ अबतक की जांच में पाया गया है कि लगभग पचास परसेंट लोग डायबिटीज और हायपर टेंशन के मरीज मिल रहे हैं या  इस तरह की बीमारियां हैं जिनकी पहचान आमतौर पर नही हो पाती है। ऐसी गंभीर बीमारियों की पहचान के साथ मुफ्त दवाई भी दी जाती है। उक्त बातें विश्व के प्रख्यात लिवर विशेषज्ञ डॉक्टर दिनेश रंजन ने कही।  उन्होंने आगे कहा इस प्रयास में बजाना ( बिहार झारखंड एसोशिएशन ऑफ नार्थ अमेरिका) के प्रेसिडेंट अविनाश गुप्ता, वायस प्रेसिडेंट डॉक्टर अनुराग कुमार, सेक्रेटरी संजीव कुमार,एफ आई ए के पूर्व प्रेसिडेंट आलोक कुमार,प्राण से डॉ गीता गुप्ता और डॉ दिनेश रंजन सहित तमाम सदस्य का सहयोग प्राप्त है। बिहार झारखण्ड में जरूरत पड़ने पर प्राण और बजाना के सौजन्य से जरूरत मंदो के लिए कई सराहनीय कार्य की गई है। कोविड के पहले लहर मे पटना का सबसे पहला कम्यूनिटी अस्पताल,सैकड़ो ऑक्सीजन कॉनसन्ट्रेटर,ऑक्सीजन सिलेंडर इत्यादि बजाना के माध्यम से स्टार्ट की गई थी साथ ही उचित स्थान सरकार द्वारा मुहैया कराई गई थी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: