गणेश चतुर्थी: दिल्ली सरकार द्वारा भव्य पूजन कार्यक्रम का आयोजन

सभी देशवासियों से अपील, आप सभी परिवार के साथ अपने घरों से टीवी के जरिए इस कार्यक्रम में जुड़कर भगवान श्री गणेश जी की वंदना करें- अरविंद केजरीवाल

नई दिल्ली। पूरी दिल्ली आज एक साथ मिलकर गणेश चतुर्थी का उत्सव मनाएगी। इसके लिए दिल्ली सरकार द्वारा भव्य पूजन कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल अपने सभी मंत्रियों के साथ पूजन कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे और इसका सभी टीवी चैनल्स पर शाम 7 बजे से लाइव प्रसारण होगा। मुख्यमंत्री ने सभी देशवासियों को श्री गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए कहा कि कोरोना के चलते दिल्ली में पंडालों के सार्वजनिक कार्यक्रमों की इजाजत नहीं है, ताकि भीड़ से बचा जा सके। उन्होंने सभी देशवासियों से परिवार के साथ अपने घरों से टीवी के जरिए इस कार्यक्रम में जुड़कर भगवान श्री गणेश जी की वंदना करने की अपील की और कहा कि 130 करोड़ भारतीय एक साथ मिलकर भगवान गणपति की वंदना करेंगे, तो चमत्कार होगा और सभी की मनोकामनाएं पूरी होंगी। सीएम ने कहा कि हम सभी को अपने बच्चों को भारत में गणेश चतुर्थी उत्सव के गौरवशाली इतिहास के बारे में बताना चाहिए और उनमें आध्यात्मिकता और देशभक्ति के मिश्रण को विकसित करना चाहिए।
मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने गणेश चतुर्थी पर्व के अवसर पर आज शाम आयोजित होने वाले भव्य पूजन समारोह के संबंध में डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज गणेश चतुर्थी है। आज भगवान श्री गणेश जी हमारे घर पधारे हैं और हमारे घर में वास करते हैं। पारंपरिक रूप से भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को हम सब अपने-अपने घरों में भगवान गणपति जी की प्रतिमा को स्थापित कर उनकी प्राण-प्रतिष्ठा सहित पूजा करते हैं। हिन्दू धर्म में भगवान गणेश प्रथम देवता भगवान हैं। श्री गणेश जी सभी विघ्नों का नाश करने वाले विघ्नहर्ता हैं। इसीलिए हर कार्य को आरंभ करने से पहले हम गणेश जी की पूजा करते हैं। पूरे देश में भगवान गणेश जी की अलग-अलग स्वरूपों में पूजा की जाती है। मैं चाहता हूं कि आज आप सभी अपने बच्चों को भारत में गणेश चतुर्थी उत्सव के गौरवशाली इतिहास के बारे में जरूर बताएं।
सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ब्रिटिश काल में लोग किसी भी सांस्कृतिक कार्यक्रम या उत्सव को साथ मिलकर या एक जगह इकट्ठे होकर नहीं बना सकते थे। इसलिए लोग घरों में पूजा किया करते थे। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक जी ने पुणे में पहली बार सार्वजनिक रूप से गणेश उत्सव मनाया। आगे चलकर उनकी वह कोशिश एक आंदोलन बनी और स्वतंत्रता आंदोलन में इस गणेशोत्सव ने लोगों को एकजुट करने में अहम भूमिका निभाई। एक तरफ से गणेश चतुर्थी के लोगों को इकट्ठा करने का काम किया। लोगों में देशभक्ति जगाने का काम किया, ताकि वे एक साथ आकर भगवान की पूजा करें और देश के लिए मिलकर लड़े। हम सभी को अपने बच्चों में आध्यात्मिकता और देशभक्ति के इस मिश्रण को विकसित करना चाहिए। हम सभी को अपने बच्चों में आध्यात्मिकता और देशभक्ति की इस भावना को जरूर डालना चाहिए। यह त्यौहार हम सब भारतवासियों को एकजुट होकर हमारी तमाम परेशानियों और परिस्थितियों से लड़ने की शक्ति देता है।
मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि कोरोना के खिलाफ देश इस वक्त सदी की सबसे बड़ी लड़ाई लड़ रहा है और हमें एकजुट होकर इसे हराना है। कोरोना के चलते इस बार पंडालों के सार्वजनिक कार्यक्रमों की इजाजत नहीं है, ताकि किसी भी तरह की भीड़ से बचा जा सके और इसीलिए हम आप सबके लिए यह शानदार गणेश पूजन कार्यक्रम करवा रहे हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि पूजन कार्यक्रम का लाइव टेलीकास्ट सभी टीवी चैनल पर होगा, ताकि आप सभी टीवी के माध्यम से अपने परिवार के साथ अपने-अपने घरों से पूजन के इस कार्यक्रम में जुड़कर भगवान श्री गणेश जी की वंदना कर सकें। आज शाम 7ः00 बजे से भगवान गणेश जी के इस भव्य पूजन कार्यक्रम में अपने सभी मंत्रियों के साथ मैं भी शामिल रहूंगा। मैं आप सभी से अनुरोध करता हूं कि इस भव्य समारोह को एक साथ मनाने के लिए अपने पूरे परिवार, खासकर अपने बच्चों को साथ जरूर रखें। मुझे बेहद खुशी है कि मशहूर गायक और संगीतकार शंकर महादेवन और सुरेश वाडेकर भी आज रात हमारे साथ श्री गणेश जी की पूजा-आरती करने के लिए इस कार्यक्रम में शामिल होंगे। इस बार दिल्ली के हम सभी दो करोड़ लोग मिलकर एक साथ भगवान से श्री गणेश जी की पूजा अर्चना करेंगे। दिल्ली के दो करोड़ लोगों की ओर से मैं सभी देशवासियों को भी भगवान श्री गणेश जी के पूजन कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आमंत्रित करता हूं। 130 करोड़ भारतीय एक साथ मिलकर भगवान गणपति की वंदना करेंगे, तो चमत्कार होगा। सभी की मनोकामनाएं पूरी होंगी। विघ्नहर्ता हम सभी को अपना आशीर्वाद दें और हमारे सभी कष्टों को हर लें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: