बच्चियों के जन्म को उत्सव की तरह मानना चाहिए – सत्येंद्र जैन

*केजरीवाल सरकार ने सीटीआई के साथ मिलकर अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर दिल्ली सरकार के अस्पतालों में चलाया एक अनोखा अभियान
*स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने अरुणा आसफ अली अस्पताल में नवजात बच्चियों के माता-पिता के साथ मनाया अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस

नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर, दिल्ली सरकार ने चैंबर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (सीटीआई) के वीमेन काउंसिल के साथ मिलकर नवजात बच्चियों के माता-पिता को बेबी किट वितरित की। सत्येंद्र जैन ने दिल्ली सरकार के अरुणा आसफ अली अस्पताल से इसअभियान की शुरुआत की।
इन वेलकम बेबी किट का वितरण दिल्ली सरकार के अपने 9 अस्पतालों में किया गया, जिसमें अरुणा आसफ अली अस्पताल, बाबा साहेब अम्बेडकर अस्पताल, दीप चंद बंधु अस्पताल, भगवान महावीर अस्पताल, दादा देव अस्पताल, आचार्य भिक्षु अस्पताल, जीटीबी अस्पताल, पं. मदन मोहन मालवीय अस्पताल और एनसी जोशी अस्पताल शामिल हैं। इस अवसर पर सत्येंद्र जैन ने कहा कि लोगों को बालिकाओं के जन्म को बढ़ावा देना चाहिए और भ्रूण हत्या जैसे गंभीर अपराध में शामिल नहीं होना चाहिए। बच्चियों के जन्म को एक उत्सव की तरह मानना चाहिए। हमें हर बच्ची के लिए एक सुरक्षित, स्वस्थ और प्रगतिशील समाज बनाना हैं, जो उन्हें सशक्तिकरण की ओर ले जाए। स्वास्थ्य मंत्री ने महिला कल्याण की दिशा में काम करने के लिए सीटीआई को धन्यवाद दिया।

श्री सत्येंद्र जैन ने कहा, “हमें देश की हर बच्ची के लिए एक सुरक्षित वातावरण बनाना होगा। जन्म से पहले या बाद में बच्चियों की हत्या करना एक दंडनीय अपराध है और इसे हर कीमत पर रोका जाना चाहिए। लोगों को बच्चियों के जन्म को बढ़ावा देना चाहिए और इसे एक उत्सव की तरह मानना चाहिए। हमें हर बच्ची के लिए एक सुरक्षित, स्वस्थ और प्रगतिशील समाज बनाना हैं, जो उन्हें सशक्तिकरण की ओर ले जाएगा। मैं सीटीआई को धन्यवाद देना चाहता हूं जो इन नवजात बच्चियों का इस दुनिया में स्वागत करने के लिए हर साल एक अभियान चलता है। दुनिया में नवजात बच्चियों के जन्म को मनाने के लिए यह एक बड़ी पहल है।”

अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस का उद्देश्य सभी लड़कियों तक बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं, शिक्षा में समान अवसर और बिना किसी लिंग-आधारित भेदभाव या हिंसा के पहुंचाना है। इस अभियान को दिल्ली सरकार के 9 अस्पताल — अरुणा आसफ अली अस्पताल, बाबा साहेब अम्बेडकर अस्पताल, दीप चंद बंधु अस्पताल, भगवान महावीर अस्पताल, दादा देव अस्पताल, आचार्य भिक्षु अस्पताल, जीटीबी अस्पताल, पं. मदन मोहन मालवीय अस्पताल और एनसी जोशी अस्पताल में चलाया गया। दिल्ली सरकार ने सीटीआई के साथ मिलकर इन 9 अस्पतालों में बेबी किट बांटी। इन बेबी किट में एक कंबल, साबुन, लोशन, खिलौने, तौलिया, मिठाई का डिब्बा, मोजे और डायपर थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: