जल संरक्षण को जीवन का मंत्र बनाने की जरूरत: PM मोदी

 

image Source: Google

देश में जल संरक्षण के महत्व को समझने का हर नागरिक से आग्रह करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि जल जीवन का आधार है, इसलिए जल की बर्बादी रोकने के लिए व्यक्तिगत स्तर पर प्रयास किए जाने की जरूरत है।

श्री मोदी ने शनिवार को यहां जल जीवन मिशन पर आयोजित एक कार्यक्रम में जल जीवन मिशन ऐप लांच किया और कहा कि उनकी सरकार की प्राथमिकता देश के ग्रामीण क्षेत्रों के हर घर को नल से जल पहुंचाना है। उनका कहना था कि गांव की महिलाएं हर दिन कई किलो मीटर दूर जाकर पोखड़ों और नदियों से पानी लाती हैं, इस पर आज तक किसी ने ध्यान नहीं दिया, लेकिन उन्होंने जो जल जीवन मिशन शुरू किया है, उससे गांव के इन लोगों का जीवन बहुत आसान हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि 2019 में उन्होंने जल जीवन मिशन की शुरुआत की थी और तब देश में सिर्फ तीन करोड़ घरों में ही नल से जल की सुविधा उपलब्ध थी, लेकिन आज 5 करोड़ घरों में नल से जल पहुंचाया जा रहा है और 2024 तक इस मिशन को पूरा कर देश की सभी ग्रामीण क्षेत्रो के हर घर को नल से जल उपलब्ध कराया जाएगा। श्री मोदी ने कहा कि जल जीवन मिशन से ग्रामीणों का जीवन आसान होगा और उनके बच्चे पढ़ाई कर सकेंगे। महिलाओं का जीवन सरल हो जाएगा। गांव में लोगो को स्वछ जल मिलेगा तो बीमारियां हावी नहीं होगी और ग्रामीण अर्थव्यवस्था में मज़बूती आएगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हर गांव को जल जीवन मिशन का लाभ मिले इसके लिए जल जीवन मिशन के साथ ही पानी समितियों का गठन किया गया है । हर घर को नल से जल पहुंचाने के साथ ही गांव की बावड़ियां को भी पुनर्जीवित किया जा रहा है। यही नहीं उनकी सरकार ने देश के गांव-गांव को जल और स्वच्छता से जोड़ने के लिए दो लाख करोड़ से ज्यादा पैसा ग्राम पंचायतों को पहचान कर ग्राम स्वराज की गांधी जी के सपनों को साकार करने का काम किया है।

उन्होंने कहा कि जल मिशन ऐप जारी किया गया है। इससे जल मिशन से जुड़ी सारी जानकारियां उपलब्ध हो सकेंगी और यहां तक पानी की गुणवत्ता की जानकारी भी इस ऐप में होगी। ऐप में गांव में जल से नल पहुंचाने संबंधी पूरी पूरा विवरण उपलब्ध होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: