भाकपा द्वारा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के खिलाफ दूसरे दिन भी भूख हड़ताल जारी

ओपन सर्च -पंकज कर्ण / (बेगूसराय) ।तेघरा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के भ्रष्टाचार एवं तानाशाही रवैये के खिलाफ भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के द्वारा जारी 20 से 22 सितंबर तक लगातार तीन दिवसीय 72 घंटे की भूख हड़ताल का आज दूसरा दिन मंगलवार को भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राष्ट्रीय सचिव मंडल सदस्य सह पूर्व विधायक राजेंद्र प्रसाद सिंह के नेतृत्व में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी तेघरा अंचल के कार्यकर्ता 34 की संख्या में भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में पार्टी के समर्थन में भूख हड़ताल में शामिल हुए।
जिसमें प्रखंड कार्यकारी अंचल मंत्री परमानंद सिंह, आईएसएफ के अंचल सचिव मोहम्मद हसमत उर्फ बालाजी, नौजवान संघ के जिला अध्यक्ष प्रदीप कुमार चिंटू, किसान नेता दिनेश सिंह, अंचल कार्यालय सचिव रविंद्र कुमार, चंद्र भूषण सिंह उर्फ जुनून सिंह, सनातन सिंह, रामप्रवेश सिंह, गौरा 2 के पूर्व मुखिया अशोक सिंह, महेंद्र शर्मा, अजीत मिश्रा, योगेंद्र ठाकुर, मोहम्मद सुल्तान, अमरनाथ राय उर्फ बबलू, शिव शंकर पासवान, रामचंद्र सिंह उर्फ बड़खू सिंह समेत भूख हड़ताल में शामिल थे। अध्यक्षता प्रदीप राय, तृप्ति नारायण सिंह एवं चंद्र भूषण सिंह की अध्यक्ष मंडली की अध्यक्षता में की गई। जबकि संचालन राजेंद्र चौधरी ने किया।
हड़ताली सभा को संबोधित करते हुए किसान नेता दिनेश सिंह ने कहा कि तेघरा अनुमंडल के अंतर्गत वर्तमान व्यवस्था के खिलाफ चरणबद्ध आंदोलन की शुरुआत की गई है। जब तक भ्रष्टाचार मैं संलग्न पदाधिकारियों में सुधार नहीं आती और गिरती हुई कानून व्यवस्था को पटरी पर नहीं लाया जाता तब तक आंदोलन जारी रहेगा।
चंद्र भूषण सिंह जुलुम सिंहस ने कहा कि भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के आंदोलन का इतिहास रहा है जब जब जुल्मी बढ़ा है तब तब पार्टी जुल्मी का डटकर मुकाबला किया है। और उसे जड़ से उखाड़ने का प्रयास किया है।
मौके पर परमानंद सिंह, मनोज सिंह ,मोहम्मद हसमत उर्फ बालाजी ,प्रदीप कुमार चिंटू ,अनिल कुमार अंजान, योगेंद्र ठाकुर, रविंद्र कुमार, सनातन सिंह, पूर्व प्रमुख राम स्वार्थ साहनी, भोला सिंह, राम उदगार पासवान, आदि ने संबोधित किया। मौके पर सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: