डेंगू विरोधी अभियान में हिस्सा लेंगे बच्चे, कॉल कर दोस्तों को भी करेंगे प्रेरित

- कल रविवार को सुबह 10 बजे सभी बच्चे अपने घर और आसपास में इकट्ठे साफ पानी की चेकिंग करेंगे ओर उसे बदल कर डेंगू पर हमला बोलेंगे* - हमें अपनी दिल्ली को डेंगू से बचाने के लिए हर रविवार को 10 मिनट होमवर्क करना है- अरविंद केजरीवाल* - हमें अपने घर और आसपास में चेंकिंग करनी है कि कहीं साफ पानी इकट्ठा तो नहीं, अगर है तो उसे उड़ेल दें, बदल दें या उसमें तेल डाल दें- अरविंद केजरीवाल

Image Source : Google
नई दिल्ली। दिल्ली सरकार द्वारा डेंगू के खिलाफ चलाए जा रहे ‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट, हर रविवार डेंगू पर वार’ अभियान के तहत इस सप्ताह दिल्ली के सभी बच्चे बढ़चढ़ कर इस अभियान में हिस्सा लेंगे। यह बच्चे अपने घर और आसपास इकट्ठे साफ पानी की चेकिंग कर डेंगू पर हमला बोलेंगे और अपने दोस्तों को फोन कर अभियान में हिस्सा लेने के लिए प्रेरित करेंगे। वहीं, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी बच्चों को इस अभियान में बढ़चढ़ कर भागीदारी सुनिश्ति करने के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि हमें अपनी दिल्ली को डेंगू से बचाने के लिए हर रविवार को 10 मिनट होमवर्क करना है। इस होमवर्क में हमें अपने घर और आसपास में चेंकिंग करनी है कि कहीं साफ पानी इकट्ठा तो नहीं, अगर है तो उसे उड़ेल दें, बदल दें या उसमें तेल डाल दें। साथ ही, अपने दोस्तों को भी फोन करके इस अभियान में हिस्सा लेने को कहें।

दिल्ली सरकार द्वारा डेंगे के खिलाफ चलाए जा रहे महा अभियान की इस सप्ताह की थीम दिल्ली के बच्चे हैं और इस थीम को ‘आओ बच्चों डेंगू को सबक सिखाएं, 10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट अपनाएं’ और ‘10 बजे, 10 हफ्ते, 10 मिनट, हर रविवार डेंगू पर वार, प्यारे बच्चों हो जाओ तैयार, डेंगू पर करने को वार’ टैग लाइन दी गई है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमें अपनी दिल्ली को डेंगू से बचाने के लिए हर रविवार को 10 मिनट होमवर्क करना है। इस होमवर्क में हमें अपने घर और आसपास में चेंकिंग करनी है कि कहीं साफ पानी इकट्ठा तो नहीं, अगर है तो उसे उड़ेल दें, बदल दें या उसमें तेल डाल दें। साथ ही, अपने दोस्तों को भी फोन करके इस अभियान में हिस्सा लेने को कहें। सीएम ने अपील करते हुए कहा कि आइए, हम अपनी प्यारी दिल्ली को डेंगू से बचाएं।

पिछले साल की तरह, इस बार भी दिल्ली सरकार ने दिल्ली में डेंगू को खत्म करने के लिए ‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ महा अभियान शुरू की है। दिल्ली सरकार के सभी मंत्री, विधायक और अधिकारी भी अभियान में हिस्सा लेकर हर रविवार को अपने-अपने घरों में जमा पानी की सफाई कर रहे हैं। साथ ही, दिल्ली में रह रहे सभी नगारिकों को विभिन्न माध्यमों के जरिए अभियान के साथ जुड़कर हर सप्ताह अपने घर के कूलर, गमलों आदि का पानी बदलने और आसपास जमा पानी की सफाई करने के लिए जागरूक किया जा रहा है। हम सभी को मिलकर हर हाल में मच्छरों को पनपने से रोकना है। 10 हफ्तों तक हम सब को ऐसा करना है और डेंगू को हराना है।

गौरतलब है कि हर साल डेंगू के सबसे ज्यादा मामले 1 सितंबर से 15 नवंबर के बीच आते हैं। डेंगू का मच्छर केवल साफ पानी में पैदा होता है। साफ पानी के अंदर डेंगू के अंडे पैदा होते हैं और वो अंडे 8 से 10 दिन के अंदर मच्छर में बदल जाते हैं। अगर हम 8 दिन से पहले उस पानी को बदल दें और उस अंडे को नष्ट कर दें, तो मच्छर पैदा ही नहीं होंगे। यह मच्छर 200 मीटर से ज्यादा नहीं उड़ सकते। अगर आपके घर में डेंगू होता है, तो आप यह मानकर चलें कि मच्छर आसपास ही पैदा हुआ है। लिहाजा, डेंगू को खत्म करने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा दिल्ली में रहने वाले हर व्यक्ति को 10 हफ्तों तक केवल 10-10 मिनट देने की अपील की जा रही है। अगर हर दिल्ली वासी अपने घर और आसपास इकट्ठे साफ पानी की अच्छे से जांच कर लें और यह सुनिश्चित कर लें कि आपके पड़ोसियों ने भी अपने घर में जांच कर ली है, तो डेंगू और चिकनगुनिया से सुरक्षित रह सकते हैं।

उल्लेखनीय है कि 2015 में दिल्ली में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी थी। उस दौरान दिल्ली में डेंगू के 15867 केस आए थे और इससे करीब 60 लोगों की मौत हुई थी। सीएम अरविंद केजरीवाल के दिशा-निर्देशन में दिल्ली सरकार ने 2019 में डेंगू विरोधी ‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ अभियान चलाया और इसका परिणाम यह रहा कि 2019 में डेंगू के 2036 केस आए और केवल 2 लोगों की मौत हुई। वहीं, 2020 में इस अभियान का परिणाम और भी उत्साह जनक रहा। पिछले साल डेंगू के केवल 1269 केस आए थे और एक भी मौत नहीं हुई।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: