त्रिशला की शादी के विरोध में खड़ी होगी जान्‍हवी

सोनी सब के शो ‘तेरा यार हूं मैं’ में त्रिशला की समय से पहले की जा रही शादी के विरोध में खड़ी होगी जान्‍हवी

सोनी सब का शो ‘तेरा यार हूं मैं’ पिता और पुत्र के वास्तिवक रिश्ते को टेलीविज़न पर दर्शाता है और अब यह शो मां के सच्चे प्यार को दिखाने के लिए बिलकुल तैयार है। बंसल परिवार में एक अच्छी मां, एक सहायक पत्नी और एक ज़िम्मेदार बहु एक साहसी अवतार लेती है क्योंकि वह अपनी बेटी त्रिशला(निहारिका रॉय) के भविष्य के लिए दादाजी की इच्छा के खिलाफ जाती है। ‘तेरा यार हूं मैं’ केआगामी एपिसोड्स में एक गंभीर मोड़ लेने वाला है।

दादाजी के प्रभाव में आकर, त्रिशला शादी के प्रपोज़ल के लिए हामी भर देती है, जिसे सुनकर घर के सभी सदस्यों को सदमा लगता है। जान्हवी त्रिशला से यह अपील करती है कि वह किसी के भी प्रभाव में न आए और अपना निर्णय खुद ले। वह  अपनी बेटी को शादी के बंधन में बंधने की ज़िम्मेदारियों की झलक दिखाती है, जान्हवी बीमार होने का नाटक करती हैं और घर का सारा काम त्रिशला को सौंप देती है, जिससे वह पूरी तरह से परेशान हो जाती है। वहीं, दूसरी तरफ दादाजी को एहसास होता है और वह उनकी बेटी के निर्णय को बदलने के लिए उससे बातचीत  करते हैं जहां जान्हवी दादाजी और उनकी धारणाओं के खिलाफ एक मजबूत स्टैंड लेती है। जान्हवी ने अपनी बेटी को शादी का विकल्प चुनने से पहले उसकी खुद की पहचान बनाने में मदद करने का दृढ़ संकल्प लिया है। दूसरी तरफ, राजीव ऋषभ के साथ डांस प्रतियोगिता को लेकर उत्साहित है लेकिन उन्हें यह नहीं पता है कि शुभम (राघव धीर)ने राजीव (सुदीप साहिर) और ऋषभ(अंश सिन्हा)के बीच मतभेद पैदा करने के लिए, राजीव को कॉम्पिटीशन की जगह पर पहुंचने से रोकने के लिए एक मास्टर प्लान बनाया है।

क्या जान्हवी त्रिशला को मनाने में सफल होगी?क्या ऋषभ के लिए राजीव डांस वेन्‍यू पर पहुंच पाएगा?

जान्हवी बंसल की भूमिका निभा रहीं श्वेता गुलाटी ने कहा, “आगामी एपिसोड्स ने सच में मेरे दिल को छुआ है और बहुत ही खुबसूरत और महत्वपूर्ण मैसेज दिया है। आगे के एपिसोड्स में आप जान्हवी को उसकी बेटी को उसकी असली पहचान और उसके महत्व के बारे में एहसास करवाने की कोशिश करते हुए देखेंगे। उसकी बेटी को शादी के बंधन में बांधने की जल्दबाजी की जा रही है जिसका वह बिलकुल समर्थन नहीं करती। मैंने इन सभी एपिसोड्स की शूटिंग करते हुए बहुत आनंद लिया क्योंकि यह एक खूबसूरत कहानी है। मुझे जान्हवी का किरदार और उसके अपने बच्चों के भविष्य को लेकर प्रगतिशील नजरिया बहुत पसंद है। हालांकि अब वह दादाजी के खिलाफ खड़ी हुई है तो यह हमारे दर्शकों के लिए देखना वाकई दिलचस्प होगा कि कैसे प्यारी सी जान्हवी अपनी बेटी को बचाने के लिए एक साहसी मां का रूप लेगी।”

Leave A Reply

Your email address will not be published.