कंगाली की कगार पर खड़े पाकिस्तान को आईएमएफ से मिलेगी मदद

इस्लामाबाद। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) पाकिस्तान की खस्ताहाल अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के वास्ते तीन साल के लिए छह अरब डॉलर का ‘बेलआउट’ पैकेज देगा। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के वित्त, राजस्व एवं आर्थिक मामले के सलाहकार अब्दुल हाफीज शेख ने रविवार को यह घोषणा की। शेख ने पाकिस्तान टेलीविजन नेटवर्क में कहा पाकिस्तान की तकनीकी टीमें और आईएमएफ के बीच तीन साल के बेलआउट पैकेज पर समझौता हुआ है, जिसमें पाकिस्तान को मदद के रूप में छह अरब डॉलर मिलेंगे। उन्होंने कहा, एक महीनों की चर्चा और वार्ता के बाद आईएमएफ और पाकिस्तान के बीच यह समझौता हुआ है। इस समझौते को अभी वॉशिंगटन में आईएमएफ बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की औपचारिक मंजूरी मिलनी बाकी है, लेकिन यह दर्शाता है कि पाकिस्तान में प्रभावी सुधार चल रहे हैं। पाकिस्तान के लिए आईएमएफ मिशन प्रमुख एर्नेस्टो रमिरेज रिगो ने भी पाकिस्तान की इस घोषणा की पुष्टि की है और कहा कि पाकिस्तान की आर्थिक नीतियों के समर्थन के लिए विस्तारित निधि व्यवस्था के तहत 39 महानों के लिए छह अरब डॉलर की मदद दी जा सकती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.