दुनिया का सबसे खौफनाक किलर

दवाई और इंजेक्शन से 300 लोगों को सुला दिया मौत की नींद
बर्लिन। उत्तरी जर्मनी के ओल्डनबर्ग शहर का पुरुष नर्स नील्स होगल दुनिया के सबसे खौफनाक सीरियल किलर में गिना जाता है। नील्स होगल पर दवाई और इंजेक्शन देकर 300 से अधिक मरीजों की हत्या का आरोप है। उसके इन हत्याओं के पीछे क्या कारण था, इसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकती है। 42 साल को नील्स को जर्मनी में उम्रकैद की सजा दी गई है। आखिर नील्स ने यह खौफनाक अपराध क्यों किया, इसका कारण पता नहीं चल पाया है। सबसे बड़ी बात तो यह कि ओल्डनबर्ग में जिस अस्पताल में होगल काम करता था, वहां के प्रशासन को भी कभी उस पर शक नहीं हुआ। मरीजों की लगातार हो रही मौतों के बाद भी उसे मरीजों से दूर रखने और काम पर आने से रोकने की कोई कोशिश नहीं की गई। जांच अधिकारियों को नील्स के अपराधों को दुनिया के सामने लाने में करीब 10 साल लग गए। अधिकारियों को आशंका है कि गिरफ्तार होने तक उसने 300 मरीजों की हत्या की थी। अभी तक 130 से अधिक मरीजों के शव जर्मनी, तुर्की, पोलैंड से बरामद किए जा चुके हैं। होगल ने खुद 43 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की है। हालांकि उसने 52 लोगों की हत्या के मामले को न तो स्वीकार किया है और न ही इससे इंकार किया है। नील्स को जर्मनी के शांतिकाल का सबसे खतरनाक सीरियल किलर माना जा रहा है। जांच अधिकारी उसके पूर्व साथी कर्मचारियों से भी पूछताछ कर रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.