विभिन्न बी-एड कॉलेजों द्वारा परीक्षा के समय किया जा रहा है छात्रों का आर्थिक एवं मानसिक शोषण: अमित

आर के.राय

जय प्रकाश विश्वविद्यालय से संबद्धता प्राप्त विभिन्न बी-एड कॉलेजों में परीक्षा के समय छात्रों का आर्थिक एवं मानसिक रूप से शोषण का कार्य शुरु हो चुका है। उक्त विषय की विस्तृत जानकारी एआईएसएफ के राज्य-पार्षद अमित नयन ने दिया। उन्होंने बताया कि 2017-19 में नामांकन दाखिल करने के समय जेपी विश्वविद्यालय द्वारा 2 वर्ष का कुल निर्धारित शुल्क 95,000 हजार रुपये तय किया गया। जिसमें शिक्षण के सभी मद शामिल है। जिसके प्रथम सत्र में निर्धारित 53,000 रूपये कॉलेजों द्वारा लिए गए। इसके समाप्ति के बाद द्वितीय वर्ष के आरंभ में छात्रों से शेष 42,000 रुपए वसूली गई। अब अचानक फाइनल परीक्षा फार्म भरने के समय छात्रों से निर्धारित शुल्क से अतिरिक्त राशि माँगी जा रही है। बहुत से छात्र-छात्राएं किसी तरह निर्धारित शुल्क की व्यवस्था ऋण-उधार लेकर किए हैं। अब अचानक से कॉलेजों द्वारा अतिरिक्त शुल्क के माँग पर उन्हें जोरों का धक्का लगा है। इसी का नजारा प्रतिक बीएड कॉलेज, सिवान में देखने को मिला।जहाँ कॉलेज के प्रांगण में छात्र-छात्राओं का झुंड महाविद्यालय प्रशासन से अतिरिक्त शुल्क के माँग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जिसका नेतृत्व छात्राध्यापक विकाश कुमार उपाध्याय ने किया। प्रदर्शन में मुख्य रूप से विक्की यादव, सुमित कुमार, विपिन कुमार , विकाश उपाध्याय, मेघा कुमारी, पूजा कुमारी, सिमा कुमारी, अभिमन्यु कुमार, सत्यदेव यादव, दीपक कुमार, साकेत कुमार, उपेंद्र कुमार मायानंद कुमार, अमरेंद्र कुमार, रम्भवती कुमारी आदि थें। वहीं एआईएसएफ से जुड़े सभी छात्रों ने काॅलेजों में प्रदर्शन भी किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.