Home slider छह दशकों की विकास यात्रा में कांग्रेस ही कांग्रेस : खड़गे

छह दशकों की विकास यात्रा में कांग्रेस ही कांग्रेस : खड़गे

0 second read
0
0
159

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसकी सरकार के 60 साल के कार्यकाल में कुछ नहीं होने का आरोप लगाकर प्रधानमंत्री नयी पीढ़ी को गुमराह करने का प्रयास कर रहे है। कांग्रेस ने दावा किया कि छह दशकों की यात्रा पर नजर डालें तो जमीन से लेकर आसमान तक, सड़क से लेकर रेल तक, दूध से लेकर अनाज तक, पानी से लेकर शिक्षा तक, टैंक से लेकर लड़ाकू विमान तक सभी जगह पर ‘कांग्रेस ही कांग्रेस’ दिखेगी। संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि राष्ट्रपति के अभिभाषण में वर्तमान सरकार और पिछली सरकार से तुलना करने का प्रयास किया गया। राष्ट्रपति के अभिभाषण का राजनीति के लिये इस्तेमाल करना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और उनकी ओर से (भाजपा से) ये सवाल उठाये जाते हैं कि 60 साल में क्या किया? खड़गे ने आरोप लगाया कि ऐसे आरोप नयी पीढ़ी को गुमराह करने के लिये लगाये जाते हैं। कांग्रेस नेता ने आंकड़ों के हवाले से कहा कि कांग्रेस की सरकार के तहत ही 1951 से 17 प्रतिशत साक्षरता दर बढ़कर 2014 में 74 प्रतिशत हो गई। शिशु मृत्यु दर 165 प्रति हजार से सुधरकर 35 प्रति हजार हो गई। अनाज के उत्पादन के लिये हरित क्रांति तथा पंचवर्षीय योजना के तहत व्यवस्थित विकास को बढ़ावा दिया। उन्होंने कहा कि 60 साल के शासन में देश की जीडीपी 33 गुणा बढ़ी। सड़क निर्माण 4 लाख किलोमीटर से बढ़कर 54 लाख किलोमीटर हुआ जबकि रेल निर्माण 54 लाख किलोमीटर से बढ़कर 65 लाख किलोमीटर हुआ। उपग्रह प्रक्षेपण से लेकर परमाणु परीक्षण एवं सिंचाई परियोजना एवं बांधों का निर्माण कार्य आगे बढ़ाया। खड़गे ने कहा, ‘‘हमने भारत को एक आत्मनिर्भर, सक्षम और स्वाभिमानी देश के रूप में आगे बढ़ाया।’’ कांग्रेस नेता ने नोटबंदी के फैसले पर सवाल उठाया और कहा कि बिना विचारे इस फैसले के कारण गरीबों को झटका लगा। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने कालाधन और रोजगार के बारे में वादे किये थे लेकिन वे वादा पूरा करने में विफल रहे। खड़गे ने सीबीआई, प्रवर्तन निदेशालय जैसी संस्थाओं का दुरूपयोग करने और असहमति का स्वर दबाने का आरोप सरकार पर लगाया। उन्होंने आरोप लगाया कि आंकड़ों को तोड़-मरोड़ कर पेश करने का काम किया गया है। उन्होंने राफेल सौदे का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार के पास कोई जवाब नहीं है। इस मामले की जेपीसी रिपीट जेपीसी से जांच करायी जाए।

Load More Related Articles
Load More By chanchal
Load More In slider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

अपूर्व ओम आर्टिस्ट को राष्ट्रीय युवा पुरष्कार से सम्मानित

नई दिल्ली। अपूर्व ओम आर्टिस्ट संस्था के संस्थापक, एवम राष्ट्रीय पुरष्कार से सम्मानित, युवा…