आईपीएल पर कोई भी फैसला क्रिकेट शुरू होने के बाद

नयी दिल्ली। वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर में क्रिकेट गतिविधियां ठप्प है और बेशुमार दौलत से भरपूर टूर्नामेंट आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) का मानना है कि क्रिकेट के फिर से शुरू होने के बाद ही आईपीएल को लेकर कोई फैसला किया जाएगा। बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने शुक्रवार को कहा कि बोर्ड आईपीएल के 13वें सत्र को पुनर्निर्धारित करने के बारे में नहीं सोच रहा है और इसके बारे में कोई भी फैसला क्रिकेट शुरू होने के बाद ही लिया जाएगा। आईपीएल को 29 मार्च से शुरू होना था लेकिन पहले लॉकडाउन के कारण इसे 15 अप्रैल तक स्थगित किया गया था और 14 अप्रैल को लॉक डाउन को तीन मई तक बढ़ाये जाने के अगले दिन बीसीसीआई ने आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया था। देश में इस समय लॉकडाउन 17 मई तक बढ़ा दिया गया है। आईपीएल के लिए सितम्बर से नवम्बर तक की ङ्क्षवडो की संभावना जताई जा रही है यदि हालात सामान्य हो जाते हैं। सितम्बर में टी-20 फॉर्मेट में एशिया कप होना है जबकि अक्टूबर नवम्बर में ऑस्ट्रेलिया में टी-20 विश्व कप होना है। यदि ये दोनों टूर्नामेंट नहीं होते हैं तभी इस ङ्क्षवडो में आईपीएल की संभव बन सकती है। इस स्थिति में एशिया कप को रद्द करना होगा और टी-20 विश्व कप को आगे खिसकाना होगा। धूमल ने सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड से कहा, ”हमने अभी तक कोई योजना नहीं बनाई है और हम अभी आईपीएल के आयोजन को लेकर भी कुछ नहीं सोच रहे हैं। हम कोई नया कार्यक्रम नहीं बना रहे हैं या किसी नई ङ्क्षवडो पर विचार नहीं कर रहे हैं। इस बारे में कोई भी फैसला तभी लिया जाएगा जब क्रिकेट वापस शुरू होगा।” उन्होंने कहा कि बहुत कुछ इस बात पर भी निर्भर करेगा कि क्या विदेशी खिलाड़ी यात्रा पाबंदियों और कई तरह के प्रोटोकॉल के बीच भारत आकर इस लीग में खेलना पसंद करेंगे। इन खिलाड़यिों को विदेश से आने के बाद दो सप्ताह के लिए क्वारेंटीन होना होगा। इन सब मामलों पर अभी स्थिति साफ नहीं है, ऐसे में बीसीसीआई कैसे अभी इस आयोजन के बारे में सोच सकता है। यदि इस बार का आईपीएल रद्द होता है तो बीसीसीआई को 3869.5 करोड़ रुपये का नुकसान हो सकता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.