तेजस्वी यादव ने केंद्र-राज्य के खिलाफ जमकर हमला बोला

आरके राय
 समस्तीपुर बिहार ::-नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ” बेरोजगारी हटाओ यात्रा ” के तहत पटोरी स्टेडियम में एक जनसभा को सम्बोधित किया l कार्यक्रम की अध्यक्षता राजद जिलाध्यक्ष राजेंद्र सहनी तथा संचालन राजद नेता सरोज राय ने की l जनसभा को सम्बोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव तेजस्वी ने बेरोजगारी के मुद्दे पर केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर हमला बोला। तेजस्वी ने कहा कि सरकार या तो 02 करोड़ युवाओं को नौकरी दे या फिर ‘बेरोजगारी हटाओ यात्रा’ का समर्थन करे। तेजस्वी यादव ने कहा कि आज हड़ताली शिक्षकों पर लाठियां बरसाई जाती हैं। जीविका और आंगनबाड़ी के लोग हड़ताल पर जाते हैं, तो सरकार उनपर लाठीचार्ज करवाती है। उन्होंने कहा कि बिहार में जब लालू यादव की सरकार थी, तब शिक्षकों को परमानेंट नौकरी दी जाती थी। आज की सरकार नियोजित शिक्षकों पर लाठियां बरसा रही है। तेजस्वी यादव ने सभा को संबोधित करते हुए दावा किया कि बिहार में 8 महीने बाद आरजेडी की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि सत्ता में आते ही हम राज्य में डोमिसाइल नीति लागू करेंगे और राज्य के नौजवानों को राज्य में ही नौकरी देंगे। तेजस्वी यादव ने कहा कि आपको पता होना चाहिए कि 2005 में जब नीतीश सीएम बनने वाले थे तो बिहार नुकसान में नहीं था। ये लालू यादव कि देन थी कि नितीश कुमार जब मुख्यमंत्री बने तो राज्य 3700 करोड़ मुनाफा में था। 2004 में एक बिहारी पर औसतन का 5000 कर्ज था। आज बिहार में एक व्यक्ति पर सवा लाख का कर्ज है। क्या यही विकास है। तेजस्वी ने कहा कि यह विकास नहीं लूट है, आप सभी लोगों को लूटा जा रहा है। तेजस्वी यादव ने अपने पिता द्वारा किये गए विकास के कार्यों को लेकर कहा कि जब लालू जी रेल मंत्री थे, तो उन्होंने बिहार में चक्का कारखाना बनवाया था। सीएम रहते लालू ने शिक्षा और पुलिस में परमानेंट नौकरी दी थी।  तेजस्वी ने कहा कि लालू यादव जब केंद्र में थे तो बिहार को 1 लाख 44 हजार करोड़ दिलाने का काम किये थे। आज बिहार में बाढ़ और सुखाड़ के लिए लोग जांच के लिए नहीं आते हैं। विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने लोगों से समाजिक न्याय तथा गंगा -यमुनी तहजीब व तेजस्वी यादव के हाथ को मजबूत करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी हटाओ यात्रा के माध्यम से लोगों को जोड़कर बिहार से बेरोजगारी की समस्या को खत्म करना है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.